May 15, 2010

याद उनकी आती है जिंदगी भर.


जिंदगी के सफर में
जो पीछे छुट जाते है,
याद उनकी आती है जिंदगी भर.

जिंदगी कि राहो में
जो साथ निभाते है,
याद उनकी आती है जिंदगी भर.

जिंदगी के दुखो में
जो दुखी हो जाते है,
याद उनकी आती है जिंदगी भर.

2 comments:

रश्मि प्रभा... said...

aur yahi silsila zindagi ka aadhar ban jati hai ...

Ravindra Ravi said...

बहुत खूब ! आपने हमारी कविता पुरी करने की कोशिश कर दी. आपका धन्यवाद.