March 23, 2011

जिंदगी एक पहेली

जिंदगी एक पहेली है,
क्योकि
कल क्या हुआ?
आज क्या हो रहा है ?
कल क्या होगा?
क्यों होगा?
कैसे होगा?
कौन करेगा?
कब करेगा?
कहा करेगा?
कुछ भी तो नहीं पता है हमें
क्योकि जिंदगी एक पहेली है,

4 comments:

***Punam*** said...

जिंदगी एक पहेली है ऐसी
न कल समझा था कोई,
न समझा है आज
न समझेगा कल कोई......!!

manoj said...

जिंदगी कैसे मिली और क्यों मिली

क्या सबब था क्या करेगी मनचली

सोचा सबने पर नहीं हासिल जवाब

मेरी खातिर जिंदगी बस एक ख्वाब

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" said...

कुछ भी तो नहीं पता है हमें
क्योकि जिंदगी एक पहेली है
wah ravindra ji kya baat hai.. behtarin .. aapki pagdandi ki yatra aur dono taraf faili hariyali..saral shabdon mein inta brihat darshan.. kotishah badhaiye

Dr.Ashutosh Mishra "Ashu" said...

कुछ भी तो नहीं पता है हमें
क्योकि जिंदगी एक पहेली है
wah ravindra ji kya baat hai.. behtarin .. aapki pagdandi ki yatra aur dono taraf faili hariyali..saral shabdon mein inta brihat darshan.. kotishah badhaiye